Murder का आरोप लगने के बाद हरिद्वार में योगगुरु के आश्रम में छुपे हैं पहलवान सुशील कुमार

Non-bailable warrant issued against Olympic medallist Sushil Kumar & others in the case relating to the killing of 23-year-old Sagar Rana
Non-bailable warrant issued against Olympic medallist Sushil Kumar & others in the case relating to the killing of 23-year-old Sagar Rana

हत्या का आरोप लगने के बाद हरिद्वार में योगगुरु के आश्रम में छुपे हैं पहलवान सुशील कुमार : दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में पहलवान सागर धनखड़ की हत्या के मामले में आरोपी ओलंपियन पहलवान सुशील कुमार को बारे में एक नई बात सामने आई है. बताया जा रहा है कि सुशील कुमार हरिद्वार के एक आश्रम में छिपे हुए हैं. ये आश्रम देश के बड़े योगगुरु का है और उनकी सहायता से ही वे पुलिस से बच रहे हैं. पुलिस ने सुशील के कुछ सहयोगियों को रोहतक से पकड़ा है जिनमें से एक ने ये दावा किया है कि वो खुद सुशील को आश्रम तक छोड़कर आया है.

दैनिक जागरण में छपी एक खबर के मुताबिक, सुशील कुमार फिलहाल हरिद्वार में एक प्रसिद्ध योगगुरु के आश्रम में हैं. सुशील के बेहद खास रहे रोहतक निवासी भूरा ने पुलिस को दिए बयान में कबूला है कि सुशील इसी आश्रम में छुपे हैं.

पुलिस का मानना है कि भूरा उन्हें भटकाने के लिए गलतबयानी भी कर सकता है. भूरा भी एक पहलवान है और सुशील का सबसे खास है. भूरा के अलावा सुशील के दो और खास दोस्त हैं जिसका नाम भूपेंद्र और अजय है. अजय के पिता बक्कर वाला इलाके से कांग्रेस के निगम पार्षद हैं. तो वहीं, भूपेंद्र के खिलाफ फरीदाबाद के थानों में उगाही और आर्म्स एक्ट के मामले दर्ज हैं.

भूरा ने बताया है कि 4 मई की रात छत्रसाल स्टेडियम में पहलवान सागर धनखड़ की हत्या के बाद सुशील और अन्य पहलवान अलग-अलग जगह जाकर छुपे थे. इसके बाद सभी ने दिल्ली से भागने का प्लान बनाया और इसी के लिए सुशील ने भूरा को भी फोन कर बुलाया था. भूरा उसे इस योगगुरु के हरिद्वार स्थित आश्रम छोड़कर आया था. इसके बाद भूरा वापस लौट आया और सुशील ने अपने सभी फोन बंद कर लिए.