IPL 2021: दिल्ली कैपिटल्स के ओपनर पृथ्वी शॉ ने IPL में पूरे किए 1,000 रन, एक ही ओवर में जड़े तीन चौके

IPL 2021: दिल्ली कैपिटल्स के ओपनर पृथ्वी शॉ ने IPL में पूरे किए 1,000 रन, एक ही ओवर में जड़े तीन चौके
IPL 2021: दिल्ली कैपिटल्स के ओपनर पृथ्वी शॉ ने IPL में पूरे किए 1,000 रन, एक ही ओवर में जड़े तीन चौके

IPL 2021: दिल्ली कैपिटल्स के ओपनर पृथ्वी शॉ ने IPL में पूरे किए 1,000 रन, एक ही ओवर में जड़े तीन चौके – रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर और दिल्ली कैपिटल्स के बीच जारी नरेंद्र मोदी स्टेडियम में दिल्ली के सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ ने एक बड़ी उपलब्धि अपने नाम कर ली है. उन्होंने आईपीएल में अपने 1000 रन पूरे कर लिए हैं. बैंगलोर के खिलाफ जारी मैच में शॉ अच्छी लय में नजर आ रहे हैं.

आईपीएल में सबसे तेजी 1000 रन पूरा करने के मामले में पृथ्वी शॉ दूसरे सबसे युवा बल्लेबाज बन गए हैं. उन्होंने 21 साल, 169 दिन में ये कीर्तिमान हासिल किया. वहीं इस लिस्ट में ऋषभ पंत शीर्ष पर हैं, उन्होंने 20 साल, 218 दिन में इस आंकड़े को छुआ था. संजू सैमसन ने 21 साल, 183 दिन में ये रिकॉर्ड बनाया था. चौथे नंबर पर शुभमन गिल हैं जिन्होंने 21 साल, 222 दिन में ये उपलब्धि हासिल की थी.

 

इससे पहले दिल्ली कैपिटल्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के बीच अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टोडियम में जारी मुकाबले में एबी डिविलियर्स ने अपने आईपीएल करियर का 40वां अर्धशतक जमाया. इस अर्धशतक से वे आईपीएल में सबसे ज्यादा पचासा जड़ने के मामले में वे संयुक्त रूप से तीसरे स्थान पर आ गए हैं.

आईपीएल के इतिहास में सबसे ज्यादा अर्धशतक डेविड वॉर्नर (49) ने लगाए हैं. उसके बाद शिखर धवन (43) ने जड़े. तीसरे स्थान पर 40 अर्धशतक जड़ने वाले तीन खिलाड़ी हैं. वो विराच कोहली, रोहित शर्मा और एबी डिविलियर्स हैं. तीनों के नाम 40 अर्धशतक हैं.

डिविलियर्स ने अपने आईपीएल करियर का 40वां अर्धशतक जमाया. साथ ही डिविलियर्स ने अपने आईपीएल करियर के 5000 रन पूरे कर लिए हैं.

 

अच्छी फॉर्म में चल रहे एबी डिविलियर्स के एक और आक्रामक अर्धशतक से रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर ने इंडियन प्रीमियर लीग में मंगलवार को यहां दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ पांच विकेट पर 171 रन बनाए. डिविलियर्स ने 42 गेंद में पांच छक्कों और तीन चौकों से नाबाद 75 रन की पारी खेली. उनके अलावा रजत पाटीदार (31) और ग्लेन मैक्सवेल (25) ने भी उपयोगी पारियां खेली। बेंगलोर की टीम अंतिम सात ओवर में 77 रन जोड़ने में सफल रही.